Top Ad unit 728 × 90

TRADING NOW

recent
loading...

धूम्रपान के कारण लड़कों से ज्यादा लड़कियां हो रही है इन बीमारियों का शिकार !

तंबाकू के कारण लड़कों को नहीं बल्कि लड़कियों को हो रही है इतनी सारी समस्याएं जानकर आपको भी लगेगा तगड़ा झटका।


इस दिन तम्बाकू से होने वाले रोगो से लोगो  को चेताने के लिए कई अभियान चलाये  जाते है तमाकू का सेवन हमारे शरीर को ही नहीं हमारे दिमाग को भी खोखला कर देता है तमाकू के सावन से कई लाखो लोग बीमारियों के शिकार हो जाते है। 


लेकिन एक शोध में एक चौंकाने वाला हुआ खुलासा हुआ है तमबाकू से लड़के नहीं बल्कि लड़कियों को अपना ज्यादा शिकार बना रहा है ये शोध अमेरिका में हुआ है और अमेरिकी औरतो में इस तम्बाकू के सेवन  से  फेफड़ो के कैंसर ज्यादा पाया गया है। 


आपकी जानकारी के लिए बता दे की ये रिसर्च अमेरिकन कैंसर सोसायटी और राष्ट्रीय कैंसर संस्थान द्वारा की गई थी दरअसल तम्बाकू में कैंसर पैदा करने वाले तत्व निकोटीन , नाइट्रोसामाइंस, बंजोपाइरींस, आर्सेनिक और क्रोमियम अत्यधिक मात्रा में पाए जाते हैं जिनमें निकोटिन, कैडियम और कार्बनमोनो ऑक्साइड स्वास्थ्य के लिए बेहद हानिकारक है आज के समय में सिगरेट का सेवन अधिक किया जाता है इसके सेवन होने वाई बीमारी के लक्षण ये है। 


साँस लेने  में दिक्क्त आना ,हमेशा थकान रहना ,नींद  की कमी ,और हमेषा तनाव महसूस होना , गले संबंधी बीमारिया होना ज्यादा लम्बे समय तक खांसी आना आदि समस्याए आपको धूम्रपान के करना घेर सकती है। 


धूम्रपान से छुटकारा पाने के लिए आप इन उपायों का सहारा ले सकते है -सबसे पहले धूम्रपान छोड़ने के लिए विल पॉवर की आवश्यकता होती है ,अपना किसी नशा मुक्त में जाकर इलाज भी करवा सकते है,आपको जब भी धूम्रपान   की इच्छा हो च्युइंगम चबा सकते हो स्प्रे और इनहेलर जैसी चीजों का सेवन किया जा सकता है। 


समय रहते डॉक्टर्स की सलाह लेकर तुरंत इलाज शुरू करवाया जा सकता है,अपने भोजन  में एंटीऑक्सीडेंट्स युक्त फलों और सब्जियों को खूब खाना चाहिए,अपनी मुँह सम्बन्धी  बीमारियों से छुटकारा पाने के लिए आंवला, आम और हल्दी का  सेवन  कर सकते है ,अपने भोजन  में फाइबर युक्त भोजन शामिल करे। 



इस खबर से सबंधित सवालों के लिए कमेंट करके बताये और ऐसी खबरे पढ़ने के लिए हमें फॉलो करना ना भूलें - धन्यवाद



loading...
धूम्रपान के कारण लड़कों से ज्यादा लड़कियां हो रही है इन बीमारियों का शिकार ! Reviewed by Vikash yadav on 2:00 PM Rating: 5

No comments:

Thanku You For Comment

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.