आज नर्क चतुर्दशी पर क्यों की जाती है यम की पूजा, जानिये क्या है रहस्य यमराज का

दिवाली से एक दिन मनाये जाने वाले इस दिन को नरक चतुर्दशी के रूप में मानते है कई लोग इसे रूप चौदस भी बोलते है। 


कार्तिक मास के कृष्ण पक्ष की चतुर्दशी का ये दिन जो की छोटी दिवाली से जाना जाता है इसका महत्व नरक चौदस से होता है और इसका सीधा महत्व यम से होता है। 


नरक चतुर्दशी को यमराज की पूजा करने से कभी नरक जाने का पाप नहीं मिलता है और यमराज की कृपा होती है। 


Loading...


इस दिन का महत्व इसलिए है की आज के दिन का ये वरदान है की आज जो यम की पूजा कर लेता है उससे नरक का मुँह नहीं देखना पड़ता उसे खुद यम वरदान देते है इसके पीछे कई कहानिया जुडी हुई है आजके दिन पवित्र स्नान होता है। 


आज के दिन पानी में तिल डालकर यमराज को चढ़ाया जाता है और घर में दीपक जलाये जाते है जिसे घर की सारी दुविधा मिट जाती है और घर में माँ लक्ष्मी का वास होता है और घर में सकारात्मक ऊर्जा आती है जिसे कई परेशानियो से बचा जाता है। 

Previous
Next Post »

BUSINESS

loading...
loading...