शुक्रवार का दिन धन प्राप्ति के लिए विशेष ,इस मंत्र के साथ करे माँ लक्ष्मी जी की पूजा !


देवी लक्ष्मी की कृपा पाने के लिए शुक्रवार के दिन माता वैभव लक्ष्मी का व्रत करने से भी सुख समृद्धि प्राप्त करते हैं और इस दिन लक्ष्मी की पूजा-अर्चना करते हुए श्वेत पुष्प, कमल , श्वेत चंदन को अर्पित करना चाहिए इसके साथ ही चावल और खीर का प्रसाद बनाकर भगवान को भोग लगाकर प्रसाद को सभी में तथा स्वयं ग्रहण करना चाहिए लक्ष्मी की उपासना से सुख-समृद्धि, सौभाग्य, ऐश्वर्य प्राप्त होता है।
loading...

माँ लक्ष्मी की पूजा विधि 


आपको बता दे की देवी लक्ष्मी जी को धन-सम्पत्ति की अधिष्ठात्री देवी के रूप में पूजा जाता है और तो और  लक्ष्मी जी जिस पर भी अपनी कृपा दृष्टि डालतीं हैं वह दरिद्र, दुर्बल, कृपण, के रूपों से मुक्त हो जाता है। इतना ही नहीं लक्ष्मी परमात्मा की एक शक्ति हैं वह सत, रज और तम रूपा तीन शक्तियों में से एक हैं आपको ये भी बता दे की देवी लक्ष्मी की कृपा प्राप्त होने के बाद भक्त को कभी धन की कमी नहीं होती देवी लक्ष्मी चल एवं अचल संपत्ति प्रदान करने वाली हैं लक्ष्मी पूजन एवं मंत्रों उच्चारण द्वार पूजा करें “ऊँ महालक्ष्म्यै नम:” मंत्र जप के साथ पूजन करें।

1. आपको बता दे की पूजा करने के लिए स्नान करके उसके बाद एक चौकी पर लाल वस्त्र बिछाकर देवी लक्ष्मी की यथासंभव चांदी की प्रतिमा को स्थापित करके 

2. प्रतिमा को कच्चे दूध व गंगाजल से स्नान कराना चाहिए। इसके पश्चात देवी जी को अक्षत, फूल, लाल चंदन, अर्पण करना चाहिए तथा लक्ष्मी मंत्र का स्मरण कर आर्थिक सुख समृद्धि की कामना करनी चाहिए। 

3“ॐ श्री महालक्ष्म्यै नमः।” अथवा “ॐ ह्री श्रीं क्रीं श्रीं क्रीं क्लीं श्रीं महालक्ष्मी मम गृहे धनं पूरय पूरय चिंतायै दूरय दूरय स्वाहा ।” मन्त्र का जाप करे। 

4. और उसके बाद विधि विधान द्वारा मंत्र पूजन करने से मां लक्ष्मी कि कृपा से व्यक्ति को धन धान्य की की प्राप्ति होती है। वैभव लक्ष्मी की साधना शुक्रवार को बहुत ही शुभ मानी जाती है। देवी मंत्र के साथ ही श्रीसूक्त का पाठ भी करें और माँ लक्ष्मी का आशीर्वाद ले। 


Previous
Next Post »
Loading...
loading...
loading...