धोनी का भविष्य तय करेगी चैंपियंस ट्रॉफी आप भी जानिये कैसे



महेन्द्र सिंह धोनी इंडियन टीम के एक बेतरीन खिलाडी है जिन्हें एक अच्छा फिनिशर माना जाता है लेकिन फिलाहल अपने कप्तानी से संन्यास लेने के बाद उनके फैनस में निराशा हो गए है लेकिन फिलहाल उनके कैरियर के बारे में कुछ कहे पाना मुश्किल है की वो क्रिकेट के संन्यास लेगे या नहीं फिलहाल अभी उनका कैरियर चैम्पियंस ट्राफी पर निर्भर है

loading...
पूरा ध्यान है चैम्पियंस ट्राफी पर



बनर्जी ने एक टूर्नामेंट के लांच के दौरान कहा कि फिलहाल धोनी का पूरा ध्यान चैम्पियंस ट्राफी पर है, अगर वह वहां सफल होता है तो वह विश्व कप 2019 तक खेलेंगे बनर्जी का मानना है कि सफलता में कुछ गिरावट के बावजूद दुनिया के सर्वश्रेष्ठ फिनिशर में से एक धेानी अब भी काफी चतुर और बेस्ट हैं
कोच बोले कि आयु बढ़ने के साथ आप उसी स्ट्राइक रेट के साथ रन नहीं बना सकते, लेकिन उसकी इच्छा शक्ति और खेल का आकलन  की क्षमता रहती हैं जो उसे विशेष बनाती हैं चैम्पियंस ट्राफी से पहले खुद को लय में रखने के लिए वह विजय हजारे ट्राफी खेल रहा है और रोज अभ्यास कर रहे है

छोड़ चुके है कप्तानी


वर्ष 2014 में आस्ट्रेलिया में टेस्ट क्रिकेट को अलविदा कहकर सबको हैरान करने वाले धोनी ने जनवरी में भारत टीम की कप्तानी भी छोड़ दी थी इंडियन प्रीमियर लीग 10 के लिए जिस तरह राइजिंग पुणे सुपर जाइंट्स ने धोनी को कप्तानी से हटाया उससे भी बनर्जी नाखुश हैं और आपको ये भी बता दे की उन्होंने कहा कि मुझे यह टीम के मालिकों का फैसला लगता है क्योंकि धोनी के पास इस सत्र में खेलने के अलावा कोई और विकल्प नहीं है और लगातार अपने खेल प्रदर्शन पर ध्यान दे रहे है 


Previous
Next Post »
Loading...
loading...
loading...